आई फ्लू क्या है आई फ्लू के लक्षण बताएं – what is eye flue

आई फ्लू क्या है – साधारण सी भाषा में आई फ्लू को आंख का आना कहते हैं और अस्पताल की भाषा में आई फ्लू को कंजेक्टिवाइटिस कहते हैं, अभी के टाइम में बारिश का मौसम चल रहा है जगह-जगह पानी गिर रहा है कई जगह पर अधिक पानी गिर रहा है, और इस मौसम मे आई फ्लू के संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है, बारिश की वजह से आंखों की यह बीमारी आई फ्लू ज्यादा हो रही है, जिसकी वजह से आज के टाइम में ज्यादातर लोग अपनी आंखों की सेफ्टी के लिए काला चश्मा पहन के घूम रहे हैं, क्योंकि आंखों में होने वाले इन्फेक्शन की वजह से आपको ज्यादा परेशानी हो सकती है जिसके लिए सेफ्टी जरूरी होती है अगर आपको भी आई फ्लू वाले लक्षण महसूस होते हैं या ऐसी कोई प्रॉब्लम होती है तो इसको हल्के में ना लें जिस व्यक्ति को आई फ्लू हो जाता है उसे क्या क्या समस्या होती है मतलब कि आई फ्लू के लक्षण क्या है यह आगे जानेंगे आई फ्लू होने की बीमारी पहले से ही चल रही है जो कि इस मौसम में ज्यादा देखने को मिलती है, आई फ्लू हो जाने पर समय रहते इसका इलाज करवाना जरूरी होता है नहीं तो यह आंखों के लिए आगे समस्या खड़ी कर सकता है आगे जानेंगे आई फ्लू के लक्षण और आई फ्लू कैसे फैलता है

आई फ्लू के लक्षण बताएं

  • आई फ्लू संक्रमित व्यक्ति की आंखों में दर्द होना
  • आंखों में सूजन आना
  • आंखों का लाल होना
  • आंखों से पानी बहना
  • आंखों में गंदगी होना
  • आंखों में खुजली होना
  • उठने के बाद आंखों का चिपकना
  • जिस व्यक्ति को आई फ्लू हो जाता है उस व्यक्ति को यह लक्षण देखने को मिलते हैं वैसे आमतौर पर ऐसी समस्याएं लोगों को पहले से ही होती रहती है लेकिन अभी के टाइम में आई फ्लू की बीमारी ज्यादा फैल रही है तो ऐसे लक्षण होने पर डॉक्टर को दिखा कर अपनी आंखों का ट्रीटमेंट करवाना चाहिए

आई फ्लू का ट्रीटमेंट

अगर किसी व्यक्ति को आई फ्लू होने का महसूस होता है जो लक्षण बताए गए हैं उनमें से कोई समस्या हो जाती है तो ज्यादा टाइम ना गवा कर डॉक्टर को दिखाना चाहिए अगर आई आई फ्लू कम होता है तो डॉक्टर उसके उसके हिसाब से दवाई देते हैं आमतौर पर जिन व्यक्तियों को अधिक नहीं होता है उनको कुछ दवाई और ड्रॉप्स दी जाती है लेकिन जिनको आई फ्लू अधिक हो जाता है उनको कुछ हाइ डोस दवाई दी जाती है इसीलिए अगर किसी व्यक्ति को यह लक्षण देखने को मिलते हैं तो ज्यादा टाइम वेस्ट ना करके तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए कुछ लोगों का मानना होता है कि यह समस्याएं हो जाती हैं तो घर पर ही दो-चार दिन में ठीक हो जाएंगी लेकिन अभी के टाइम में से लापरवाही नहीं करनी चाहिए क्योंकि आई फ्लू यादा हो रहा है इसलिए डॉक्टर को दिखाना चाहिए,

आई फ्लू से बचने के तरीके

जैसा कि आपको मालूम पड़ चुका है कि आई फ्लू का खतरा बारिश के मौसम में ज्यादा रहता है तो इस मौसम में लोगों को साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए, खासकर आई फ्लू का संक्रमण हाथों के द्वारा ज्यादा फैलता है कहीं भी आने-जाने पर या कोई काम करने पर कभी अचानक आंखों से हाथ को नहीं मसलना चाहिए और ना ही आंखों को छूना चाहिए हाथ को साफ करने या धोने के बाद ही आंखों को छूना चाहिए, घर से अगर बाहर निकलते हो तो आंखों पर सेफ्टी के लिए कोई चश्मा लगाना चाहिए, इसके अलावा अपनी फेस पर इस्तेमाल की जाने वाली चीजें जैसे रुमाल, तोलिया, चश्मा किसी ऐसे व्यक्ति के साथ शेयर नहीं करना चाहिए जिसमें आई फ्लू के कोई लक्षण हो रहे हो, क्योंकि आई फ्लू का संक्रमण यह सब करने से ही एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फेलता है ना कि किसी व्यक्ति की आंखों में देख लिया जाए तो उस व्यक्ति से संक्रमण नहीं फैलता है,

Leave a Comment