विक्की रॉय अंतरराष्ट्रीय फोटोग्राफर कैसे बने, who is biggest photo grapher in world

विक्की रॉय के अंतरराष्ट्रीय फोटोग्राफर बनने की स्टोरी क्या है घर से भाग कर कैसे बने इतने बड़े फोटोग्राफर

विक्की रॉय अंतरराष्ट्रीय फोटोग्राफर कैसे बने – अगर आप केवल अपनी 10 11 साल की उम्र में अपना घर छोड़कर घर से बाहर निकल जाए और क्या कोई ऐसी सफलता हासिल कर सकते हो कि आपकी पहचान अपने देश के साथ-साथ देश के बाहर अंतर्राष्ट्रीय लेवल पर हो तो इसका जवाब है बिल्कुल हां क्योंकि यह सफलता हासिल की है विक्की रो ए ने अंतरराष्ट्रीय लेवल के सबसे बड़े फोटोग्राफर बनकर, उनके संघर्ष भरी कहानी जानने के लिए वीडियो क्लिक करके पूरा देखिए और चैनल सब्सक्राइब करिए,

vikky roy left his house only age of 11th year, शुरुआत से जाने जब विक्की रॉय ने 11 वर्ष में घर छोड़ दिया था

भारत के पश्चिम बंगाल राज्य के एक 11 साल के बच्चे ने गरीबों के कारण अपना घर छोड़कर 1999 में दिल्ली के रेलवे स्टेशन में जाकर कचरा बिनने का काम करने लगा और आज उसे बच्चों की पूरी संपत्ति 50 करोड़ से ज्यादा की तो विचार कीजिए, एक व्यक्ति अपने जीवन में मेहनत करके कहां से कहां पहुंच सकता है और विक्की रोए इतना बड़ा कैसे बना मैं आपको बताता हूं, विक्की रॉय जब अपना घर छोड़कर दिल्ली भागे थे तो शुरुआत में कचरा बिना और बाद में अपना पेट भरने के लिए दिल्ली के रेस्टोरेंट में बर्तन धोने का काम करते थे ताकि वहां से कुछ पैसे मिल सके और पेट भर खाना मिल सके, कुछ टाइम बाद होटल में काम करते-करते एक अच्छे बेटर बन गए और उसी के दौरान उनकी मुलाकात एक फोटोग्राफर से हुई और उन्होंने फोटोग्राफी के करियर को समझा उसके बाद में उनके मन में भी एक फोटोग्राफर बनने की इच्छा जागी, और फोटोग्राफी में मन लगाने के बाद तथा सालों तक मेहनत करने के बाद 2007 में इंडिया हैबिटेट सेंटर पर अपनी फोटोग्राफी का नजारा दिखाकर अपने फोटोग्राफर होने का दावा पेश किया, उसके बाद विक्की रॉय को रामनाथ फाउंडेशन फोटोग्राफी सेंटर से वर्ल्ड लेवल पर फोटोग्राफी करने का ऑफर मिला और वहां से करने लगे थे,

इसके बाद विक्की ने वर्ल्ड लेवल पर फोटोग्राफी करने के लिए लगातार मेहनत करते रहे स्टडी करते रहे वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर काफी ज्यादा स्टडी की और सीखते रहे और डेली कंसल्टेंसी से काम करते रहे ऐसे में फिर उन्हें दोबारा पीछे मुड़कर नहीं देखा अपने जीवन में आगे बढ़ते रहे, उसके बाद जब भी भारत लौटकर आए तो बाल कल्याण संस्था की तरफ से उनको पुरस्कार दिए और भारत में भी एक अच्छे लेवल पर जान पहचान मिली, और उसके कुछ टाइम बाद श्रीलंका में विकसित किया और वहां पर अपनी टैलेंट और अपनी फोटोग्राफी का प्रदर्शन करके वहां से अच्छा नाम बनाया, और इसी तरह अपने फोटोग्राफी करियर में जगह-जगह घूमते रहे फोटोग्राफी करके लोगों से पहचान बनाते रहे और इस फील्ड में आगे बढ़ते चले गए, और अपनी मेहनत के बदौलत आज लाखों करोड़ों में कमाई करने के साथ-साथ एक सेलिब्रिटी की तरह पहचान बनाकर विक्की रॉय अपना काम कर रहे हैं देश-विदेश घूमने से लेकर कंपनियां मैं इनवेस्ट करने और अपना एक स्टेटस बनाने सभी तरह की फिल्में विक्की और आगे बढ़ रहे हैं,

तू विक्की रॉय की सफलता से आपको यह सीख मिलती है कि आपके जीवन की शुरुआत भले ही किसी स्तर से हुई हो उसे टाइम पर आप कितने ही छोटे और गरीब हो अगर आपके अंदर किसी काम को करने के लिए एक जुनून और काम को लगातार करने के लिए लगन है तो आप एक बहुत बड़े व्यक्तित्व की तरह अपनी पहचान बना सकते हो क्योंकि यह मुकाम इस दुनिया में हजारों लाखों लोगों ने हासिल किया है जो की सभी कर सकते हैं अगर उनके अंदर अपने काम को करने के लिए लगन और मेहनत है तो सभी अपनी पहचान और अपने जीवन बदल सकते हैं,

Leave a Comment